March 3, 2024

News & jobs

देश विदेश के हिंदी समाचारों सहित नोकरी Jobs देखें।

कैंपर से ठेके में तोडफ़ोड़

Two accused of sabotage on Ghodiwara contract arrested, camper vehicle seized, three accused still out of police custody

घोड़ीवारा ठेके पर तोड़फोड़ करने के दो आरोपी गिरफ्तार,कैंपर गाड़ी जब्त, तीन आरोपी अभी पुलिस गिरफ्त से बाहर

घोड़ीवारा ठेके पर तोड़फोड़ करने के दो आरोपी गिरफ्तार,कैंपर गाड़ी जब्त, तीन आरोपी अभी पुलिस गिरफ्त से बाहर

Two accused of sabotage on Ghodiwara contract arrested, camper vehicle seized, three accused still out of police custody

 

     

कैंपर से ठेके में तोडफ़ोड़
Two accused of sabotage on Ghodiwara contract arrested, camper vehicle seized, three accused still out of police custody

 

तीन आरोपी अभी भी फरार

गांव घोड़ीवारा खुर्द में बाइपास रोड स्थित शराब ठेके पर चार नवम्बर की रात उधार में शराब देने से मना करने पर सेल्समैन से मारपीट करने और कैंपर से ठेके में तोडफ़ोड़ कर शराब व 65 हजार रुपए नकद छीनकर ले जाने के मामले में मुकुंदगढ़ पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जबकि घटना में लिप्त तीन आरोपी अभी भी पुलिस गिरफ्त से दूर है। फरार आरोपियों में से एक आरोपी सीकर व झुंझुनूं में गैंग चलाता है।पुलिस उनकी तलाश कर रही है।

नवलगढ़ पुलिस उपाधीक्षक सतपाल सिंह ने बताया कि पांच नवंबर को इस संबंध में गांव घोड़ीवारा खुर्द निवासी सुंदरपाल जाट ने पुलिस में मामला दर्ज करवाया था कि चार नवंबर की रात को आठ बजे के करीब अखिलेश मील निवासी बलरिया और संदीप गोदारा निवासी गोदारा की ढाणी एक बिना नम्बर को कैंपर गाड़ी लेकर आए, जिनके साथ तीन- चार अन्य व्यक्ति आए और दुकान के सेल्समैन जितेन्द्र कुमार से उधार में शराब मांगी। सेल्समैन ने उधार में शराब देने से इंकार कर दिया। तब दुकान के पार्टनर मनीराम को टेलीफोन पर गालियां दी।

इसके बाद आरोपियों ने धमकी दी कि इसके परिणाम भुगतने पड़ेंगे। फिर रात 10.30 बजे अखिल मीन और संदीप गोदार अपने तीन-चार साथियों के साथ वापस गाड़ी लेकर आए और गाड़ी की टक्कर मारकर दुकान का गेट तोड़ दिया। इसके बाद सभी ने सुंदरपाल के साथ मारपीट की। आरोपी चार पेटी अंग्रेजी शराब व दुकान में रखे गल्ले से 65 हजार रुपए निकालकर भाग गए।आरोपियों की तलाश के लिए थानाप्रभारी सरदारमल चौधरी के नेतृत्व में गठित टीम ने गांव बलरिया निवासी अखिल मील व सीकर जिले के दादिया थाना क्षेत्र के गांव कोलिंडा निवासी प्रदीप जाट को गिरफ्तार किया है। वारदात में काम में ली गई कैंपर गाड़ी को भी जब्त कर लिया है। वारदात में शामिल तीन आरोपी संदीप गोदारा, सुनील पांडया व मुकेश उर्फ मटकी की तलाश की जा रही है। उन्होंने बताया कि आरोपी सुनील पांडया की ओर से सीकर व झुंझुनूं में एसपी ग्रुप नाम की आपराधिक गैंग चलाना और सभी आरोपी इसी गैंग के सदस्य होना भी पुलिस जांच में सामने आया है। थानाप्रभारी सरदारमल चौधरी के नेतृत्व में एएसआई सकेंद्रसिंह को दी गई। गठित पुलिस टीम ने कार्रवाई को अंजाम दिया।

 

पहले भी दर्ज है मामले

मामले में गिरफ्तार किए गए आरोपी बलरिया निवासी अखिल मील के खिलाफ मुकुंदगढ़ पुलिस थाने में विभिन्न धाराओं में पांच व सीकर के कोतवाली थाने में एक प्रकरण दर्ज है। आरोपी प्रदीप के खिलाफ एक प्रकरण दर्ज है। आरोपी संदीप गोदारा के खिलाफ एक, आरोपी सुनील उर्फ पांडया के खिलाफ बलारा, बगड़, दादिया, खंडेला, मुकुंदगढ़ थाने में कुल दस प्रकरण दर्ज है। आरोपी मुकेश उर्फ मटकी के खिलाफ मंडावा और मुकुंदगढ़ थाने में तीन मामले दर्ज है।

तीन आरोपी अभी भी फरार

मुकदमा दर्ज होने के बाद पुलिस द्वारा जांच शुरू की गई। पुलिस ने धमकी की ऑडियो रिकार्डिंग ली। गवाहों के बयान दर्ज किए गए। पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू की, लेकिन आरोपियों का कोई सुराग नहीं मिली। इसके बाद पुलिस ने विशेष टीम का गठन किया। तलाशी के बाद पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया व घटना में काम में ली गई कैंपर गाड़ी को जब्त कर लिया गया। जांच में सामने आया कि इस घटना में सुनिल पांडया निवासी खींवसर, मुकेश उर्फ मटकी निवासी मिर्जवास व प्रदीप मील निवासी कोलिड़ा भी शामिल थे। आरोपी सुनिल पांडया सीकर व झुंझुनूं में एसपी ग्रुप नाम की गैंग चलाता है। यह आरोपी अभी पुलिस गिरफ्त से दूर है। पुलिस ने आरोपियों को शरण देने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई करेगी। सुनील पांडया के खिलाफ ऑर्म्स एक्ट, आबकारी अधिनियम के मुकदमें भी दर्ज है।

 

 

 

 

 

————————————————Thank You For visit——————————————————-