February 26, 2024

News & jobs

देश विदेश के हिंदी समाचारों सहित नोकरी Jobs देखें।

ट्रेफिक पुलिस थाने में कार्यरत एक कांस्टेबल ने रविवार सुबह पुलिस लाइन स्थित सरकारी आवास में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली।

ट्रेफिक पुलिस थाने में कार्यरत एक कांस्टेबल ने रविवार सुबह पुलिस लाइन स्थित सरकारी आवास में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली।

A constable working in the traffic police station committed suicide on Sunday morning by hanging himself at the police line government residence.

 

A constable working in the traffic police station committed suicide on Sunday morning by hanging himself at the police line government residence.
A constable working in the traffic police station committed suicide on Sunday morning by hanging himself at the police line government residence.

 

ट्रेफिक पुलिस थाने में कार्यरत एक कांस्टेबल ने रविवार सुबह पुलिस लाइन स्थित सरकारी आवास में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली।कोतवाली थानाधिकारी सुरेंद्रसिंह देगड़ा ने बताया कि ट्रेफिक पुलिस थाने में कार्यरत कांस्टेबल रसोड़ा निवासी संजय कुमार ने रविवार को पुलिस लाइन स्थित अपने सरकारी आवास में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। वह कई दिनों से अपनी पत्नी की की बीमारी के चलते तनाव में था।

उसने सुसाइड नाेट में अपने भाई काे बच्चाें का ध्यान रखने के लिए भी कहा है। काेतवाल सुरेंद्र देगड़ा ने बताया कि मृतक रसाेड़ा निवासी संजय किराेड़ीवाल (35) पुत्र शंकरलाल मेघवाल था। वह यहां ट्रैफिक पुलिस थाने में एचएम (एलसी) पद पर कार्यरत था। रविवार काे वह ट्रैफिक थाने में नहीं आया।

दाेपहर में पुलिस वालाें ने फाेन किया ताे उसने उठाया नहीं। घरवालाें ने भी फाेन किया ताे नहीं उठाने पर उसने फाेन नहीं उठाया। दाेपहर तक फाेन नहीं उठाने पर परिजनाें ने पड़ाेस में रहने वाले पुलिसवालाें काे सरकारी आवास पर जाकर बात कराने काे कहा। वहां रहने वाले पड़ाेसियाें ने देखा ताे कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था। काफी देर तक आवाज देने के बाद भी काेई जवाब नहीं आया।

इस पर लाइन व पुलिस अधिकारियाें काे सूचना दी गई। सूचना पर काेतवाल सुरेंद्र देगड़ा, ट्रैफिक इंचार्ज धर्मेंद्र मीणा, एएसआई मुलायम सिंह माैके पर पहुंचे। दरवाजे की खिड़की के शीशे ताेड़कर देखा ताे वह पंखे के हुक से लटका हुआ था। इस पर पुलिस अधिकारियाें ने कमरे का दरवाजे का कुंदा ताेड़ा।

सूचना पर परिजन भी गांव से आ गए। एएसपी डाॅ. तेजपाल सिंह भी माैके पर पहुंचे और मुआयना किया। पुलिस काे एक सुसाइड नाेट भी मिला। पुलिस ने शव काे फंदे से उतरवाकर बीडीके अस्पताल पहुंचाया। जहां पाेस्टमार्टम कराकर शव परिजनाें काे साैंप दिया। इस संबंध काेतवाली में उसके भाई तेजपाल ने मर्ग की रिपाेर्ट दी है। शाम काे रसाेड़ा में अंत्येष्टि की गई।

ज्ञात रहे ट्रैफिक पुलिस में ट्रांसफर से पहले संजय कुमार कोरोड़ीवाल मण्ड्रेला पुलिस थाने में कार्यरत थे।काफी मिलनसार व्यक्तित्व के धनी संजय ने नए साल पर फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली।

miss you bhai

2008 में पुलिस में भर्ती हुआ था संजय

रसाेड़ा निवासी संजय किराेड़ीवाल 2008 में पुलिस में भर्ती हुआ था। उसके दाे बच्चे बेटी दिव्या (8) बेटा आशीष (4) है। संजय के इस कदम से उसकी बुजुर्ग मां सरस्वती, पिता शंकरलाल पर गमाें का पहाड़ टूट पड़ा। उसके भाई तेजपाल ने मर्ग की रिपाेर्ट दी है। मामले की जांच काेतवाल सुरेंद्र देगड़ा कर रहे हैं।

सुबह फाेन पर कहा- तबीयत नरम है दाे घंटे लेट आऊंगा

ट्रैफिक इंचार्ज धर्मेंद्र मीणा ने बताया कि संजय किराेड़ीवाल ट्रैफिक ऑफिस में कार्यरत था। रविवार सुबह करीब साढ़े नाै बजे मैने फाेन किया ताे उसने कहा था कि सर आज तबीयत नरम है। दाे घंटे बाद आऊंगा। दाेपहर तक जब वह नहीं आया ताे साथी पुलिस वालाें ने फाेन कर उसके हाल जानने चाहे, लेकिन उसने फाेन नहीं उठाया। परिजनाें ने भी उसकाे फाेन किया ताे उसने फाेन रिसीव नहीं किया। दाेपहर में परिजनाें ने पड़ाेसियाें काे क्वार्टर पर जाकर देखने काे कहा तब कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था।

पत्नी चंद्रकला काे लिखा-प्रिय मैं साथ नहीं निभा पाया, माफ कर देना

पुलिस काे एक सुसाइड नाेट भी मिला है। जिसमें संजय किराेड़ीवाल ने पत्नी चंद्रकला काे लिखा है कि प्रिय मुझे माफ कर देना मैं साथ नहीं निभा पाया। भाई तेजपाल तुम बच्चाें का ध्यान रखना। संजय ने अपनी मर्जी से आत्महत्या करने की बात सुसाइड नाेट में लिखी है। चंद्रकला व बच्चे चार-पांच दिन से गांव गए हुए थे।पुलिस के मुताबिक ट्रैफिक जवान संजय कुमार की पत्नी चंद्रकला के हाथाें की अंगुलियों में मवाद भर जाती थी। अंगुलियों में कट लग जाते थे। इसका जयपुर के चिकित्सक से पांच-छह साल से इलाज चल रहा है। लंबे समय से पत्नी की बीमारी ठीक नहीं हाेने से संजय तनाव में था।

दाे साल पहले भी जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया था

यहां ट्रैफिक थाने में कार्यरत जवान संजय किराेड़ीवाल ने दाे साल पहले भी जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया था। 11 फरवरी 2021 काे दाेपहर में जहरीले पदार्थ का सेवन कर लेने से उसकी ट्रैफिक थाने में तबीयत बिगड़ने पर उसे शहर के राेड नंबर दाे स्थित निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उस समय भी पुलिस काे बताया गया था कि पारिवारिक परेशानियाें की वजह से तनाव में था। संजय की पत्नी लंबे समय से बीमार है। जिनका जयपुर में इलाज कराया गया। महंगा इलाज हाेने के कारण वह आर्थिक रूप से परेशान था। रविवार काे संजय किराेड़ीवाल  सरकारी आवास पर अकेला था। उसकी पत्नी चंद्रकला बच्चाें के साथ पीहर हेतमसर गई हुई थी।

 

 

 

 

 

 

 

————————————————Thank You For visit——————————————————-