March 1, 2024

News & jobs

देश विदेश के हिंदी समाचारों सहित नोकरी Jobs देखें।

An example of Hindu-Muslim unity was presented in village Nalwa, Muslim brothers pulled out the bindori of a Hindu sister.

An example of Hindu-Muslim unity was presented in village Nalwa, Muslim brothers pulled out the bindori of a Hindu sister.

गांव नालवा में हिन्दू मुस्लिम एकता की मिसाल पेश,मुस्लिम भाइयों ने निकाली है हिन्दू बहन की बिंदोरी

गांव नालवा में हिन्दू मुस्लिम एकता की मिसाल पेश,मुस्लिम भाइयों ने निकाली है हिन्दू बहन की बिंदोरी

An example of Hindu-Muslim unity was presented in village Nalwa, Muslim brothers pulled out the bindori of a Hindu sister.

An example of Hindu-Muslim unity was presented in village Nalwa, Muslim brothers pulled out the bindori of a Hindu sister.
An example of Hindu-Muslim unity was presented in village Nalwa, Muslim brothers pulled out the bindori of a Hindu sister.

 

गांव नालवा में हिन्दू मुस्लिम एकता की मिसाल पेश,मुस्लिम भाइयों ने निकाली है हिन्दू बहन की बिंदोरी
मण्ड्रेला ग्राम पंचायत लाम्बा के राजस्व गांव नालवा में हिन्दू समाज की बहन की मुस्लिम समाज के भाइयों ने घोड़ी पर बैठाकर डीजे के साथ एक अनोखी बिंदोरी निकाली।बेटी को घोड़ी पर सवार देखकर लोगों ने इस पहल की जमकर प्रशंसा की।
लड़की पूजा के पिता लीलाधर सैन व माता शीला देवी ने बताया कि जब समाज में संदेश दिया जाता है कि लड़का-लड़की एक समान है तो फिर लड़का ही घोड़ी पर क्यों बैठता है, लड़की घोड़ी पर क्यों नहीं बैठ सकती ? इसी उद्देश्य के साथ उन्होंने बेटियों को बिना किसी भेदभाव के हमेशा लड़कों के समान माना है।उन्होंने बताया कि बदलते जमाने के साथ साथ हर माता-पिता को अपनी सोच में बदलाव कर उनके अधिकार स्वरूप उनको भी उतना ही सम्मान देना चाहिए।मुस्लिम भाइयों द्वारा डीजे के साथ घोड़ी पर बिंदोरी निकालना आसपास के क्षेत्रों में चर्चा का विषय बना हुआ है।
बिंदोरी करीम खान नालवा(केके),कयूम व बिलाल द्वारा युसूफ खान के घर से निकाली गई।इस अवसर पर ग्रामीण मितेश गोदारा,मनोहर लाल,नेकीराम, सोनू,मुबारिक सहित काफी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।
मण्ड्रेला ग्राम पंचायत लाम्बा के राजस्व गांव नालवा में हिन्दू समाज की बहन की मुस्लिम समाज के भाइयों ने घोड़ी पर बैठाकर डीजे के साथ एक अनोखी बिंदोरी निकाली।बेटी को घोड़ी पर सवार देखकर लोगों ने इस पहल की जमकर प्रशंसा की।
लड़की पूजा के पिता लीलाधर सैन व माता शीला देवी ने बताया कि जब समाज में संदेश दिया जाता है कि लड़का-लड़की एक समान है तो फिर लड़का ही घोड़ी पर क्यों बैठता है, लड़की घोड़ी पर क्यों नहीं बैठ सकती ? इसी उद्देश्य के साथ उन्होंने बेटियों को बिना किसी भेदभाव के हमेशा लड़कों के समान माना है।उन्होंने बताया कि बदलते जमाने के साथ साथ हर माता-पिता को अपनी सोच में बदलाव कर उनके अधिकार स्वरूप उनको भी उतना ही सम्मान देना चाहिए।मुस्लिम भाइयों द्वारा डीजे के साथ घोड़ी पर बिंदोरी निकालना आसपास के क्षेत्रों में चर्चा का विषय बना हुआ है।

मण्ड्रेला ग्राम पंचायत लाम्बा के राजस्व गांव नालवा में हिन्दू समाज की बहन की मुस्लिम समाज के भाइयों ने घोड़ी पर बैठाकर डीजे के साथ एक अनोखी बिंदोरी निकाली।बेटी को घोड़ी पर सवार देखकर लोगों ने इस पहल की जमकर प्रशंसा की।
लड़की पूजा के पिता लीलाधर सैन व माता शीला देवी ने बताया कि जब समाज में संदेश दिया जाता है कि लड़का-लड़की एक समान है तो फिर लड़का ही घोड़ी पर क्यों बैठता है, लड़की घोड़ी पर क्यों नहीं बैठ सकती ? इसी उद्देश्य के साथ उन्होंने बेटियों को बिना किसी भेदभाव के हमेशा लड़कों के समान माना है।उन्होंने बताया कि बदलते जमाने के साथ साथ हर माता-पिता को अपनी सोच में बदलाव कर उनके अधिकार स्वरूप उनको भी उतना ही सम्मान देना चाहिए।मुस्लिम भाइयों द्वारा डीजे के साथ घोड़ी पर बिंदोरी निकालना आसपास के क्षेत्रों में चर्चा का विषय बना हुआ है।
मण्ड्रेला ग्राम पंचायत लाम्बा के राजस्व गांव नालवा में हिन्दू समाज की बहन की मुस्लिम समाज के भाइयों ने घोड़ी पर बैठाकर डीजे के साथ एक अनोखी बिंदोरी निकाली।बेटी को घोड़ी पर सवार देखकर लोगों ने इस पहल की जमकर प्रशंसा की।
मण्ड्रेला ग्राम पंचायत लाम्बा के राजस्व गांव नालवा में हिन्दू समाज की बहन की मुस्लिम समाज के भाइयों ने घोड़ी पर बैठाकर डीजे के साथ एक अनोखी बिंदोरी निकाली।बेटी को घोड़ी पर सवार देखकर लोगों ने इस पहल की जमकर प्रशंसा की।

 

 

 

 

————————————————Thank You For visit——————————————————-