March 1, 2024

News & jobs

देश विदेश के हिंदी समाचारों सहित नोकरी Jobs देखें।

नौ देवियों की झांकी का आयोजन:ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय सेवा केंद्र मण्ड्रेला पर हुआ कार्यक्रम

नौ देवियों की झांकी का आयोजन:ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय सेवा केंद्र मण्ड्रेला पर हुआ कार्यक्रम

नौ देवियों की झांकी का आयोजन:ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय सेवा केंद्र मण्ड्रेला पर हुआ कार्यक्रम

नौ देवियों की झांकी का आयोजन:ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय सेवा केंद्र मण्ड्रेला पर हुआ कार्यक्रम

Tableau of nine goddesses organized: program organized at Brahma Kumari Divine Service Center Mandrela
नौ देवियों की झांकी का आयोजन:ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय सेवा केंद्र मण्ड्रेला पर हुआ कार्यक्रम
नौ देवियों की झांकी का आयोजन:ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय सेवा केंद्र मण्ड्रेला पर हुआ कार्यक्रम

 

मण्ड्रेला.प्रजापिता ब्रह्मा कुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की ओर से सोमवार शाम चैतन्य नौ देवियों की झांकी का आयोजन किया गया l

जिनको देखने के लिए श्रद्धालुओं की काफी भीड़ उमड़ी।डॉ धर्मवीर शर्मा ने बताया कि शारदीय नवरात्र पर चेतन ने नौ देवियों की झांकी बनाई गई। जिनकी सभी श्रद्धालुओं ने विधि विधान पूर्वक पूजा अर्चना करते हुए आरती की।

कार्यक्रम ने आए अतिथियों का तिलक और पटका पहना कर स्वागत कियाl

ब्रह्मा कुमारी पुष्पा बहन अमृत बहन ने नवरात्र का आध्यात्मिक रहस्य बताते हुए कहा कि नव रात्रि अर्थात पुराना सब समाप्त कर पुनः नए जीवन की शुरुआत और देवी अर्थात सदा देने वाली, देवी को शिव शक्ति कहा जाता है।अर्थात वह शिव से शक्ति लेकर भक्तों को प्रदान करती हैlहम नौ दिन तक तो देवियों को पूजते हैं और फिर विसर्जन करते हैं l हम अपने जीवन से बुराइयों का विसर्जन करें l जिससे हमारा जीवन श्रेष्ठ बने l देवियों की अष्ट भुजाए अष्ट शक्तियों की प्रतीक हैं

।कार्यक्रम नरेश भाई ने मंच संचालन किया।

इस मौके पर बहन गोपी,बहन वनिता,बहन साक्षी,सविता शर्मा,निर्मला मिश्रा,शारदा शर्मा,स्नेह शर्मा,शशी शर्मा,नीलम शर्मा,सुनीता,सरिता,नफीस मंडेलिया,महेंद्र लमोरिया,डॉ बीके शर्मा,डॉ प्रदीप शर्मा,डॉ गोविंद शर्मा,ईश्वर सिंह,उल्लास चेजारा,गफूर रंगरेज,माता ललिल,सुनीता,माता गायत्री,माता तारा,मुरारीलाल रुंगटा,सुरेंद्र भाई,राम भाई,ओमप्रकाश भाई,अनिल शर्मा,महेंद्र रुंगटा,सीताराम रुंगटा आदि मौजूद थे। कार्यक्रम में भाग लेने वाले सभी श्रद्धालुओं को प्रसाद ब्रह्मा भोजन भेंट किया।

plz share,like,comment and subscribe

शेखावाटी सहित राजस्थान एवं देश – विदेश की महत्वपूर्ण खबरों व धार्मिक आयोजनों के वीडियों देखने के लिए कृपा चेनल subscribe कीजिये
वीडियो पसंद आए तो लाइक,कैममेंट्स व शेयर जरूर करे।

 

 

 

मण्ड्रेला.प्रजापिता ब्रह्मा कुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की ओर से सोमवार शाम चैतन्य नौ देवियों की झांकी का आयोजन किया गया l जिनको देखने के लिए श्रद्धालुओं की काफी भीड़ उमड़ी।डॉ धर्मवीर शर्मा ने बताया कि शारदीय नवरात्र पर चेतन ने नौ देवियों की झांकी बनाई गई। जिनकी सभी श्रद्धालुओं ने विधि विधान पूर्वक पूजा अर्चना करते हुए आरती की।कार्यक्रम ने आए अतिथियों का तिलक और पटका पहना कर स्वागत कियाl ब्रह्मा कुमारी पुष्पा बहन अमृत बहन ने नवरात्र का आध्यात्मिक रहस्य बताते हुए कहा कि नव रात्रि अर्थात पुराना सब समाप्त कर पुनः नए जीवन की शुरुआत और देवी अर्थात सदा देने वाली, देवी को शिव शक्ति कहा जाता है।अर्थात वह शिव से शक्ति लेकर भक्तों को प्रदान करती हैlहम नौ दिन तक तो देवियों को पूजते हैं और फिर विसर्जन करते हैं l हम अपने जीवन से बुराइयों का विसर्जन करें l जिससे हमारा जीवन श्रेष्ठ बने

ब्रह्माकुमारीज ईश्वरीय सेवा केंद्र टोडाभीम की ओर से तीन दिवसीय शाम चैतन्य नौ देवियों की झांकी का आयोजन किया गया l जिनको देखने के लिए श्रद्धालुओं की काफी भीड़ उमड़ी। सेवा केंद्र सेंटर प्रभारी ने बताया कि शारदीय नवरात्र में सेवा केंद्र पर चैतन्य नौ देवियों की झांकी बनाई गई। जिनकी सभी श्रद्धालुओं ने विधि विधान पूर्वक पूजा अर्चना करते हुए आरती की।

ब्रह्मकुमारीज बहन ने नवरात्रि का आध्यात्मिक रहस्य बताते हुए कहा वर्तमान समय चारों ओर नवरात्रि है। अर्थात् नो प्रकार का अज्ञान अंधियारा है। हम सभी मानवात्माएं वर्तमान काम, क्रोध, लोभ, मोह, अहंकार, ईर्ष्या, द्वेष, व्यसन, फैशन, डर, उदासीनता, नफरत असुरो के अधीन होकर रोगी दुःखी बन गये है।

इस कारण व्यक्ति परेशान, दुःखी, चिन्ताग्रस्त व अपने के प्रति बेपरवाह है। इन देवियों को शिव-शक्ति, असुर संहारिनी, जगत जननी कहा जाता है। इन्होंने शिव से शक्ति प्राप्त कर असुरो का संहार किया है, तो हम सभी इन देवियों के समान गुणों को स्वयं में धारण कर अपने जीवन की बुराईयों का संहार करें।

 

 

 

————————————————Thank You For visit——————————————————-