February 26, 2024

News & jobs

देश विदेश के हिंदी समाचारों सहित नोकरी Jobs देखें।

एसोसिएशन ने सीएम व सीएस को लिखा पत्र कलक्टर के जाने के दौरान मंत्री ने कहा-यह क्या तरीका है

एसोसिएशन ने सीएम व सीएस को लिखा पत्र कलक्टर के जाने के दौरान मंत्री ने कहा-यह क्या तरीका है

मंत्री ने ब्यूरोक्रेट्स को कोसा तो कलक्टर उठकर चले गए

मंत्री ने ब्यूरोक्रेट्स को कोसा तो कलक्टर उठकर चले गए

When the minister cursed the bureaucrats, the collector got up and left.

एसोसिएशन ने सीएम व सीएस को लिखा पत्र

मंत्री ने ब्यूरोक्रेट्स को कोसा तो कलक्टर उठकर चले गए

एसोसिएशन ने सीएम व सीएस को लिखा पत्रकलक्टर के जाने के दौरान मंत्री ने कहा-यह क्या तरीका है
एसोसिएशन ने सीएम व सीएस को लिखा पत्र
कलक्टर के जाने के दौरान मंत्री ने कहा-यह क्या तरीका है

वीडियो में सब दिख रहा बीकानेर में कलेक्टर भगवती प्रसाद कलाल को ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने भरे कार्यक्रम से बाहर निकलने को कहा। कलेक्टर कार्यक्रम के बीच से हुए रवाना।
बीकानेर: सोमवार को बीकानेर कलेक्टर भगवती प्रसाद कलाल को ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने भरे कार्यक्रम से बाहर निकलने का कह दिया।
दरअसल, रविन्द्र रंगमंच पर राजिविका के स्वयं सहायता समूहों का संवाद कार्यक्रम चल रहा है।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मंत्री रमेश चंद्र मीणा सभा को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान मंच पर बैठे कलेक्टर भगवती प्रसाद कलाल फोन चला रहे थे।
तभी अचानक मंत्री ने माइक पर ही कलेक्टर को फटकार लगानी शुरू कर दी।
मंत्री ने कलेक्टर से कहा कि आपको बात सुनने का समय नहीं है, ब्यूरोक्रेट्स ज्यादा हावी हो रहे हैं क्या..?
मंत्री के दुर्व्यवहार पूर्ण शब्दों से कलेक्टर उठने की तैयारी में ही थे, तभी मंत्री ने कहा जाइए उठकर चले जाइए। कलेक्टर कार्यक्रम बीच में छोड़ कर चले गए।
पिछले दिनों प्रताप सिंह खाचरियावास ने भी जताई थी नाराजगी, ब्यूरोक्रेसी के व्यवहार को लेकर की थी शिकायत। अब मंत्री रमेश मीणा ने भी आज दिखाई खासी नाराजगी, मंत्री रमेश मीणा माने जाते हैं साफगोई से खरी खरी कहने वाले।

बीकानेर. सरकार के कुछ मंत्री और ब्यूरोक्रेसी के बीच चल रहा विवाद सोमवार को फिर सामने आ गया। यहां रवींद्र रंगमंच पर महिला स्वयं समूह से संवाद कार्यक्रम में ग्रामीण विकास मंत्री रमेश चंद मीणा ने कलक्टर की तरफ इशारा करते हुए ब्यूरोक्रेट्स को खूब कोसा। कार्यक्रम में मंच पर कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल भी बैठे थे। मंत्री के संबोधन के दौरान कॉल आने पर कलक्टर ने मोबाइल कान पर लगा लिया। ऐसा देख मंत्री ने अपने संबोधन को दूसरी तरफ मोड़ते हुए कहा- सरकार का निर्देश है… सीएम का निर्देश है…हमारी बात क्यों नहीं सुन रहे… क्या ब्यूरोक्रेट्स इतने हावी हैं इस स्टेट में…सुनते नहीं हैं बात को। इस पर कलक्टर बोले- मैं चला जाता हूं…। मंत्री ने भी कह दिया- आप जाइए यहां से। कलक्टर के सीट से उठकर जाने के दौरान मंत्री ने फिर कहा कि यह क्या तरीका है…।

घटना का वीडियो थोड़ी ही देर में वायरल होने लगा। मंत्री मीणा के इस व्यवहार से नाराज कलक्ट्रेट के कर्मचारियों ने अपना काम छोड़ दिया। बाद में कर्मचारी पैदल मार्च करते हुए संभागीय आयुक्त कार्यालय पहुंचे। उन्होंने अतिरिक्त संभागीय आयुक्त एएच गौरी से मंत्री मीणा के व्यवहार की शिकायत की। उधर राजस्थान आईएएस एसोसिएशन ने सोमवार को सीएम अशोक गहलोत और मंत्रियों पर स्वप्रचार के लिए कुछ आइएएस अधिकारियों को जानबूझकर टारगेट करने का आरोप लगाया है।

मंत्री की मौजूदगी वाले कार्यक्रम के दौरान जो घटनाक्रम हुआ, उसका वीडियो वायरल हो रहा है। उसमें सब कुछ नजर आ रहा है। इसके अलावा मैं क्या कह सकता हूं। -भगवती प्रसाद कलाल, कलक्टर, बीकानेर।

 

 

 

 

 

————————————————Thank You For visit——————————————————-