March 1, 2024

News & jobs

देश विदेश के हिंदी समाचारों सहित नोकरी Jobs देखें।

Chat mangni..pat marriage Had gone to see the girl for the son got married चट मंगनी..पट विवाह पुत्र के लिए लडकी देखने गए थे शादी कर लाए 

चट मंगनी..पट विवाह पुत्र के लिए लडकी देखने गए थे शादी कर लाए 

चट मंगनी..पट विवाह पुत्र के लिए लडकी देखने गए थे शादी कर लाए 

Chat mangni..pat marriage Had gone to see the girl for the son got married
Chat mangni..pat marriage Had gone to see the girl for the son got married

 

चट मंगनी..पट विवाह पुत्र के लिए लडकी देखने गए थे शादी कर लाए Chat mangni..pat marriage Had gone to see the girl for the son got married

चट मंगनी..पट विवाह पुत्र के लिए लडकी देखने गए थे शादी कर लाए

चट मंगनी..पट विवाह…की कहावत हुई चरितार्थ, गये थे संगाई करने…ले आई दुल्हन
देवरोड ग्राम के राम अवतार कुल्हरी पुत्र श्री जयकरण जी कुल्हरी अपने बेटे मोहित व सालिम का बास निवासी बाबूलाल लांबा पुत्र श्री रामजी लाल जी लांबा अपनी बेटी ज्योति की गोद भराई की रस्म के लिए चिड़ावा अनुपमा मैरिज गार्डन में एकत्रित हुए थे। पूर्व प्रधान कैलाश मेघवाल भी दोनों परिवारों की तरफ से कार्यक्रम में मौजूद थे । दोनों परिवारों का उनके पिता श्री सुंदरलाल जी से वर्षों से गहरा लगाव है दोनों परिवारों से वार्ता के पश्चात पूर्व प्रधान कैलाश मेघवाल ने सादगी पूर्ण व बिना किसी खर्चे व दहेज की शादी करने का निर्णय लिया। रामअवतार कुल्हरी के बेटे मोहित भारतीय सेना की राजपूत रेजीमेंट में कार्यरत हैं जबकि बाबूलाल जी की बेटी ज्योति बीएससी बीएड व फिलहाल में वेटनरी का कोर्स कर रही है तत्काल सामान की व्यवस्था कर बिना दहेज बगैर बारात सादगी से विवाह संपन्न हुआ।
चिड़ावा चट मंगनी..पट विवाह की कहावत चरितार्थ हुई है। गये तो थे संगाई करने लेकिन दुल्हन को साथ लेकर लौटे। जी हां ये अदभूत शादी की कहानी है शहर के निकट देवरोड गांव की है। शादी तो आप ने कही देखी होगी। शाही शादी और हैलीकोप्टर में दुल्हन को ले जाने की।
लेकिन ऐसी शादी आपको बहुत कम देखने को मिलती है, जहां जो शादी समाज के लिये प्रेरणा बन जाये। दरअसल देवरोड गांव के रामौतार ठेकेदार के बेटे मोहित की संगाई के लिये सूरजगढ़ विधानसभा के शालीम का बास पहुंचे।
जहां उन्होंने बाबूलाल की बेटी ज्योति से संगाई के बजाये सीधे शादी की करने की सोची।
इस सोच के पीछे प्रेरणा थी चिड़ावा पंचायत समिति के पूर्व प्रधान कैलाश मेघवाल की। उन्हीं की प्ररेणा से चट मंगनी और पट विवाह की कहावत चरितार्थ हुई है।
पूर्व प्रधान की इस प्रेरणा से समाज में भी एक अच्छा संदेश गया है। जहां बिना दहेज और बिना किसी तामजाम के सरल तरीके से शादी सम्पन्न हुई है। बता दे कि मोहित बीए पास है जबकि ज्योति बीएससी की हुई है। रामौतार ठेकेदार की पत्नी संतोष एवं बाबूलाल की पत्नी सुमन देवी ने भी पूर्व प्रधान की इस सोच की सराहना की है।
संयोग से अनुपम मैरिज गार्डन के टेंट की व्यवस्था का जिम्मा सौदागर टेंट हाउस व सुहाग टेंट हाउस के ओनर जयदेव सिंह राठौड़ व महिपाल सिंह सिहाग ने आज ही से शुरुआत की थी
पूर्व प्रधान की हो रही है चारो और तारीफ
आमतौर पर जनप्रतिनिधियो को लेकर चर्चाएं होती है कि वो वोट की राजनीति करते है। लेकिन पूर्व प्रधान ने इस चर्चाओ को कुछ हद तक विराम देते हुये साबित कर दिया है कि समाज को जोड़ने का काम भी जनप्रतिनिधि करते है। देवरोड के पूर्व सरपंच कुलदीप कुल्हरि ने बताया कि वे भी एक जनप्रतिनिधि रहे है। आमतौर पर एक जनप्रतिनिधि को वोटो की राजनीति करने के नजरिये से देखा जाता है। लेकिन उनकी पिलानी विधानसभा का सौभाग्य है कि एक ऐसा जनप्रतिनिधि भी है जो समाज को लेकर भी संवेदनशील है। जिसका उदाहरण आज देखने को मिला है।
ये लोग हुये शामिल
इस शादी में बीडीसी मेंबर सुभाष योगी, सुनील पूनियां, अरविंद सैनी, चिड़ावा सुरेश थाकन, पार्षद प्रतिनिधि चरण सिंह, बनगोठडी सरपंच राजवीर मेघवाल, हमीनपुर सरपंच रामनिवास सिंह शेखावत, अरड़ावता सरपंच प्रतिनिधि नरेश राज, पिलानी प्रधान प्रतिनिधि संदीप रायला, पुरूषोत्तम राज, रजनीकांत शर्मा, सुरेंद्र मिस्त्री, पूर्व अतरराष्ट्रीय खिलाड़ी दर्शनसिंह जोडिया सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

#वीडियो #पसंद आए तो
plz #share,like,#comment and #subscribe my #channel

https://fb.watch/lX9HA3Z8OV/

 

 

 

————————————————Thank You For visit——————————————————-